Gulluk Bachcha Bank: ये है बिहार का अनोखा “गुल्लक बच्चा बैंक” जिसे बच्चे ही चलाते हैं।

Gulluk Bachcha Bank: ये है बिहार का अनोखा “गुल्लक बच्चा बैंक” जिसे बच्चे ही चलाते हैं।

बिहार के पटना में किलकारी बाल भवन नाम की एक खास जगह है। इस जगह के अंदर एक बहुत ही दिलचस्प बैंक है जिसे “गुल्लक बच्चा बैंक (Gulluk Bachcha Bank)” कहा जाता है। इस बैंक की खास बात यह है कि इसे बच्चों द्वारा चलाया जाता है और यह एक ऐसी जगह है जहां बच्चे अपना पैसा बचा सकते हैं। इस बैंक में केवल बच्चों को ही खाता खोलने की अनुमति है। बैंक के कैशियर, ब्रांच मैनेजर और अन्य सभी कर्मचारी 14 से 15 साल के बच्चे हैं

“Gulluk Bachcha Bank” की शुरुआत

“Gulluk Bachcha Bank” की शुरुआत वर्ष 2018 में हुई थी।बच्चों को पैसे बचाने और बैंक कैसे काम करते हैं, यह जानने में मदद कराना है। बैंक में 10 से 15 वर्ष के बच्चों को कैशियर, ब्रांच मैनेजर, और अन्य बैंकिंग पदों पर नियुक्त किया जाता है। बच्चे अपने खातों में पैसे जमा कर सकते हैं, और जरूरत पड़ने पर पैसे निकाल भी सकते हैं।

Gulluk Bachcha Bank

गुल्लक बच्चा बैंक में अब तक 4000 से अधिक बच्चों के खाते खोले जा चुके हैं। बैंक में बच्चों को बचत, निवेश, और बैंकिंग प्रणाली के बारे में शिक्षा दी जाती है। बैंक के माध्यम से बच्चे न केवल बचत करने का तरीका सीखते हैं, बल्कि उन्हें बैंकिंग प्रणाली के बारे में भी जानकारी मिलती है।

गुल्लक बच्चा बैंक एक विशेष कार्यक्रम है जो बच्चों को पैसे बचाने के बारे में सिखाता है। इससे उन्हें बैंकों के बारे में और पैसे को जिम्मेदारी से संभालने के बारे में सीखने में मदद मिलती है।

गुल्लक बच्चा बैंक की विशेषताएं

गुल्लक बच्चा बैंक की कुछ विशेषताएं इस प्रकार हैं:

  • यह बैंक बच्चों द्वारा चलाया जाता है।
  • इसमें बच्चों के लिए ही बचत खाते खोले जाते हैं।
  • बच्चों को बचत, निवेश, और बैंकिंग प्रणाली के बारे में शिक्षा दी जाती है।

गुल्लक बच्चा बैंक में वर्तमान में 80 लाख रुपये की जमा राशि

इस बैंक में अब तक करीब 80 लाख रुपये जमा हो चुके हैं. बैंक में खाता रखने वाले हर बच्चे को एक पासबुक मिलती है। बैंक हर साल जमा किए गए पैसे का 4% ब्याज भी देता है। फिलहाल, जिनके खाते में सबसे ज्यादा पैसे हैं वह सुकन्या नाम की छात्रा हैं। उनके पास 23 हजार रुपये हैं. सबसे ज्यादा पैसे वाले दूसरे व्यक्ति ईरानी बनारवाल हैं, जिनके पास 9616 रुपये हैं। जिन बच्चों के खाते गुल्लक बच्चा बैंक में हैं वे जरूरत पड़ने पर पैसे भी निकाल सकते हैं। लेकिन अगर उन्हें 500 रुपये से ज्यादा रकम निकालनी है तो उन्हें अपने माता-पिता की इजाजत लेनी होगी.

गुल्लक बच्चा बैंक में बचत खातों पर ब्याज दरें

Gulluk Bachcha Bank में बचत खातों पर ब्याज दरें निम्नलिखित हैं:

  • 7 दिनों से 30 दिनों तक: 4% प्रति वर्ष
  • 31 दिनों से 90 दिनों तक: 5% प्रति वर्ष
  • 91 दिनों से 180 दिनों तक: 6% प्रति वर्ष
  • 181 दिनों से 364 दिनों तक: 7% प्रति वर्ष
  • 1 वर्ष से अधिक: 8% प्रति वर्ष

साल में चार बार ब्याज दरें बदली जाती हैं। उदाहरण के लिए, यदि कोई बच्चा 1 वर्ष के लिए ₹1000 जमा करता है, तो उसे 1 वर्ष के बाद ₹1080 मिलेगा। ब्याज ₹80 होगा, जो 8% ब्याज दर पर आधारित है। गुल्लक बच्चा बैंक में बचत खातों पर ब्याज दरें अन्य बैंकों की बचत खातों की ब्याज दरों से अधिक हैं। यह बच्चों को बचत करने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए किया जाता है।

Case 1- पोलियोग्रस्त छात्र ने पिता के इलाज के लिए गुल्लक बच्चा बैंक से निकाले पैसे

इंद्रजीत कुमार, जो कन्या मध्य विद्यालय मुसल्लहपुर में आठवीं कक्षा में पढ़ता है, का एक पैर पोलियोग्रस्त है। वह गुल्लक बच्चा बैंक में पांच हजार रुपये जमा कर चुका है। जब उसके पिता की तबीयत खराब हुई, तो उसने अपने खाते से पैसे निकालकर उनका इलाज कराया। इस पैसे से पिता का इलाज हो गया और वह अब ठीक हैं। इंद्रजीत के लिए यह एक राहत की बात है कि उसने बचत की आदत डाली थी, जिससे उसे जरूरत पड़ने पर मदद मिल सकी।

Gulluk Bachcha Bank” से बचत ने राहुल को प्लस टू में दाखिला लेने में मदद की

राहुल कुमार, जो अभी प्लस टू में पढ़ रहा है, ने गुल्लक बच्चा बैंक में आठ हजार रुपये जमा किए थे। जब उसने प्लस टू करने के लिए कॉलेज में दाखिला लिया, तो उसके पास फीस और अन्य खर्चों के लिए पैसे नहीं थे। उसने अपने खाते से पैसे निकालकर दाखिला लिया। इस पैसे से उसे कॉलेज में दाखिला लेने में मदद मिली। राहुल के लिए यह एक प्रेरणा है कि बचत करने से मुश्किल समय में मदद मिल सकती है।

FAQ-सामान्य प्रश्न

Q-गुल्लक बच्चा बैंक की स्थापना कब हुई थी?

Ans-गुल्लक बच्चा बैंक की स्थापना वर्ष 2018 में हुई थी।

Q-गुल्लक बच्चा बैंक का उद्देश्य क्या है?

Ans-गुल्लक बच्चा बैंक का उद्देश्य बच्चों में बचत की भावना को विकसित करना और उन्हें बैंकिंग प्रणाली से परिचित कराना है।

Q-गुल्लक बच्चा बैंक में कौन-कौन से खाते खोले जा सकते हैं?

Ans-गुल्लक बच्चा बैंक में केवल बच्चों के लिए ही बचत खाते खोले जा सकते हैं।

Q-गुल्लक बच्चा बैंक में बच्चों को कौन-कौन सी शिक्षा दी जाती है?

Ans-गुल्लक बच्चा बैंक में बच्चों को बचत, निवेश, और बैंकिंग प्रणाली के बारे में शिक्षा दी जाती है।

“Gulluk Bachcha Bank” एक अभिनव पहल है, जो बच्चों में बचत की भावना को विकसित करने में मदद कर रही है। यह बैंक बच्चों को बैंकिंग प्रणाली से परिचित करा रहा है, और उन्हें वित्तीय साक्षरता प्रदान कर रहा है। यह पहल बच्चों के भविष्य के लिए महत्वपूर्ण है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यकीन नहीं मानोगे! ये 9 जगहें हैं UP में जो ताजमहल को भी फीका कर देंगी! मेरठ: इतिहास, धर्म और खूबसूरती का संगम! घूमने के लिए ये हैं बेहतरीन जगहें रोज आंवला खाने के 10 धांसू फायदे जो आपको कर देंगे हेल्दी और फिट! Anjali Arora to play Maa Sita: रामायण फिल्म में सीता का रोल निभाएंगी अंजली अरोड़ा, तैयारियों में लगी? Rinku Singh : रिंकू सिंह ने अपने दाहिने हाथ पर बने टैटू का खोला राज, सुनकर हो जायेंगे दंग Panchayat Season 3 Release Date: फुलेरा में मचा भूचाल! क्या अभिषेक इस बार हार जाएगा?