6174 को रहस्यपूर्ण संख्या या जादुई संख्या क्यों कहा जाता है 

6174 को रहस्यपूर्ण संख्या या जादुई संख्या क्यों कहा जाता है 

इस संख्या “6174” को ध्यान से देखिये, पहली नजर में देखने पर यह नंबर आपको कुछ खास नहीं दिखेगा परन्तु साल 1949 से ये गणितज्ञों के लिए एक पहेली बना हुआ है।

भारतीय गणितज्ञ दत्तात्रेय रामचन्द्र कापरेकर को संख्याओ के साथ प्रयोग करना बहुत पसंद था इसी प्रयोग की प्रक्रिया में इनका परिचय इस रहस्यमय संख्या से हुआ।

साल 1949 में मद्रास में हुए एक गणित सम्मलेन में दत्तात्रेय रामचन्द्र कापरेकर ने दुनिया को इस संख्या से परिचित कराया था।

वो कहा करते थे जिस तरह मदहोश रहने के लिए शराबी शराब पीता है उसी तरह संख्याओं के मामले में मेरे साथ भी बिलकुल ऐसा ही है।

वो मुंबई विश्वविद्यालय से पढ़े थे और मुंबई के देवलाली कस्बे के एक स्कूल में पढ़ाते हुए अपनी जिंदगी गुजारी थी।अक्सर उन्हें स्कूल और कॉलेजों में उनके विशेष तरीके पर बात करने के लिए बुलाया जाता था। हालांकि उनकी खोज का मजाक उड़ाया गया और भारतीय गणितज्ञों ने इसे खारिज कर दिया।

लेकिन धीरे-धीरे उनकी खोज को लेकर भारत और विदेशों में चर्चा होने लगी 1970 के दशक में अमेरिका के बेस्ट सेलिंग लेखक और गणित में रुचि रखने वाले मार्टिन‌ गार्डनर ने उनके बारे में एक लोकप्रिय साइंस मैगज़ीन साइंटिफिक अमेरिका में लिखा।

ओसाका की यूनिवर्सिटी में इकोनॉमिक्स के प्रोफेसर Yutaka Nishiyama का कहना है कि संख्या 6074 वाकई में एक बहुत रहस्यवादी संख्या है आज कापरेकर और उनकी खोज को मान्यता मिल रही है साथ ही इस रहस्यवादी संख्या पर दुनिया भर के गणितज्ञ काम कर रहे हैं।

दोस्तों आखिर इसकी वजह क्या है और यह संख्या क्यों इतनी मैजिकल है। इसे समझने के लिए चलिए आपको आगे कुछ तथ्य बताते हैं।

6174 को रहस्यपूर्ण संख्या

सबसे पहले आप कोई भी चार अंको की संख्या अपने मन से चुनिए लेकिन कोई भी अंक उसमें दोबारा नहीं आना चाहिए।

  • चलिए उदाहरण के लिए लेते हैं 1234
  • इनको घटते क्रम में लगाएं- 4321
  • अब बढ़ते क्रम में लगाएं -1234अब बड़ी संख्या को छोटी संख्या से घटा दे 4321-1234=3087

अब नतीजे में मिली संख्या के साथ 2,3 और चार बिंदुओं को दोहराइए।

  • नतीजे में मिले अंकों को घटते क्रम में रखें: 8730
  • अब इन्हें बढ़ते क्रम में रखें: 0378
  • अब बड़ी संख्या में से छोटी संख्या को घटा दें: 8730 – 0378 = 8352

नतीजे में मिली संख्या के साथ ऊपर की तीनों प्रक्रियाओं को दोहराईए।

अब संख्या 8352 के साथ यही करके देखते हैं-

  • 8532 – 2358 = 6174
  • 6174 के साथ इस प्रक्रिया को दोहराते हैं, यानी बढ़ते और घटते क्रम में रखने के बाद बड़ी संख्या में से छोटी संख्या को घटाएं।
  • 7641 – 1467 = 6174

जैसा कि आप देख सकते हैं, इसके बाद फिर से प्रक्रिया दोहराने का कोई मतलब नहीं क्योंकि आगे प्रक्रिया दोहराने से आपको वही नतीजे मिलेंगे : 6174

लेकिन हो सकता है कि आप सोचें कि ये महज़ एक संयोग है ऐसा नहीं हो सकता। तो चलिए किसी दूसरे नंबर के साथ ये प्रक्रिया दोहराते हैं।

मान लीजिए 4002 को लेते हैं

  • 4200-0024=4176
  • 7641-1467=6174
  • 7641 – 1467 = 6174

उदाहरण के लिए एक और संख्या ले लेते हैं 2000

  • 2000-0002=1998
  • 9981-1899=8082
  • 8820-0288=8532
  • 8532-2358=6174
  • 7641 – 1467=6174

अब आप खुद ही देख सकते हैं कि अगर आप कोई भी चार अंको की संख्या चुनते हैं तो अंतिम नतिजा 6147 ही मिलता है और उसके बाद उस प्रक्रिया को दोहराने पर यही नतीजा मिलना जारी रहता है।

karprekar

इस फ़ार्मूले को कैप्रेकर्स कांस्टैंट कहते हैं।

एक ऑनलाइन मैगजीन में प्लस निशियामा ने लिखा कि कैसे उन्होंने 6174 को पाने के लिए सभी 4 अंको की संख्या के साथ प्रयोग करने के लिए कम्प्यूटर का इस्तेमाल किया था।

लेकिन हर चार अंको की संख्या जिसमें सभी अंक अलग-अलग हों कापरेकर की प्रक्रिया के तहत 7 चरण में संख्या 6174 तक ही पहुंच रही थी।

निशियामा के अनुसार अगर आपके द्वारा कापरेकर की प्रक्रिया को 7 बार दोहराने के बाद भी 6174 संख्या प्राप्त नहीं होती है, तो जरूर आपने कुछ गलती की है और आपको फिर से कोशिश करनी चाहिए।

दोस्तों आपकी इस मेजिकल नम्बर 6174 के बारे मैं क्या राय है comment करके जरूर बताइएगा। धन्यवाद!!

ये भी पढ़े

7 thoughts on “6174 को रहस्यपूर्ण संख्या या जादुई संख्या क्यों कहा जाता है 

  1. Too much intresting concept I don’t know about these “magical” number by reading this post I know this magical number 😀😀😀

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यकीन नहीं मानोगे! ये 9 जगहें हैं UP में जो ताजमहल को भी फीका कर देंगी! मेरठ: इतिहास, धर्म और खूबसूरती का संगम! घूमने के लिए ये हैं बेहतरीन जगहें रोज आंवला खाने के 10 धांसू फायदे जो आपको कर देंगे हेल्दी और फिट! Anjali Arora to play Maa Sita: रामायण फिल्म में सीता का रोल निभाएंगी अंजली अरोड़ा, तैयारियों में लगी? Rinku Singh : रिंकू सिंह ने अपने दाहिने हाथ पर बने टैटू का खोला राज, सुनकर हो जायेंगे दंग Panchayat Season 3 Release Date: फुलेरा में मचा भूचाल! क्या अभिषेक इस बार हार जाएगा?